Sun. Nov 29th, 2020

KHABARBAZI

सर्वप्रथम : )

डेटा सुरक्षा: संसदीय समिति ने गूगल से पूछा, चीन के साथ क्या लिंक है?


नई दिल्ली: डेटा सुरक्षा विधेयक को लेकर बनी संसद की संयुक्त समिति के सामने गूगल और Paytm के अधिकारी गुरुवार को अलग-अलग समय पर पेश हुए. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक संयुक्त समिति ने दोनों कंपनियों के अधिकारियों से पूछा कि उनकी कंपनियों में चीन का निवेश कितना है? खासकर गूगल से पूछा गया कि चीन के साथ उनका क्या लिंक है?

यूजर्स के निजी डेटा को कहां स्टोर करता है गूगल?
गूगल से ये भी पूछा गया कि वे भारत मे कितना कॉर्पोरेट टैक्स जमा करते हैं? और उन्हें कितना रेवेन्यू मिलता है. गूगल से भारत में उसके गूगल पे और यू ट्यूब से आने वाले रेवेन्यू के बारे में भी बताने को कहा गया. गूगल से कमेटी के सदस्यों ने सवाल किया कि वह भारतीय यूजर्स के निजी डेटा को कहां स्टोर करता है और क्यों?

ऑनलाइन कंटेंट को लेकर कितने तटस्थ?
कमेटी के सदस्यों ने गूगल से पूछा कि उसके पास चूंकि कंट्रोल बटन है इसलिए वह ऑनलाइन कंटेंट को लेकर कितना तटस्थ (Neutral) है? कमेटी ने गूगल को इन सवालों का जवाब लिखित में देने को कहा गया है.

अमेजन से हो चुकी है पूछताछ
बता दें कि इसके पहले कमेटी ने फेसबुक, ट्वीटर और अमेजन के अधिकारियों से भी पूछताछ कर चुका है. अमेजन के अधिकारियों ने तो शुरू में कमेटी के सामने पेश होने से ही इंकार कर दिया था. लेकिन जब कमेटी ने सर्वसम्मति से उसके खिलाफ प्रिविलेज का मामला बनाने की चेतावनी दी तो उसके अधिकारी बुधवार की बैठक में पेश हो गए थे.

सवालों के घेरे में ट्विटर
जबकि ट्वीटर से कमेटी ने लेह लद्दाख को जिओ टैग में चीन का हिस्सा दिखाए जाने पर सवाल किए थे.

.



Source link